Breaking News

गाँधी जयंती भाषण - Gandhi Jayanti speech in Hindi


गाँधी जयंती भाषण - Gandhi Jayanti speech in Hindi

गाँधी जयंती - Gandhi Jayanti

गाँधी जयंती भारत का एक राष्ट्रीय त्यौहार है जिसे महात्मा गाँधी के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में प्रतिवर्ष 2 अक्टूबर (Mahatma Gandhi Jayanti) को मनाया जाता है | इसी दिन को संयुक्त राष्ट्र महासभा के द्वारा 'अंतराष्ट्रीय अहिंसा दिवस' घोषित किया गया है |


मोहन दास करमचंद गाँधी - Mohandas Karamchand Gandhi

महात्मा गाँधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को पोरबंदर, गुजरात में हुआ था | महात्मा गाँधी का पूरा नाम मोहन दास करमचंद गाँधी था | गाँधी जी को 'राष्ट्रपिता' और 'बापू' कहकर भी सम्बोधित किया जाता था | वर्ष 1915 में राजवैद्य जीवराम कालिदास ने सबसे पहले गाँधी जी को 'महात्मा' कहकर सम्बोधित किया था | उसके बाद से ही गाँधी जी जनता के बीच 'महात्मा गाँधी' के रूप में लोकप्रिय हुए | वर्ष 1944 में नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने सर्वप्रथम महात्मा गाँधी को 'राष्ट्रपिता' कहकर सम्बोधित किया था|


gandhi jayanti,mahatma gandhi,gandhi jayanti drawing,gandhi jayanti special,gandhi,gandhi jayanti 2018,gandhi jayanti songs,gandhi jayanti speech,mohandas karamchand gandhi,mahatma gandhi jayanti,gandhi jayanti (holiday),gandhi jayanti viral script,mahatma gandhi speech,gandhi ji,gandhi jayanti.,gandhi jayanti song,gandhi jayanti poster,gandhi jayanti bhashan,speech on gandhi jayanti,gandhi jayanti programme


महात्मा गाँधी - Mahatma Gandhi

भारत के स्वतंत्रता संग्राम में गांधी जी ने अहम् भूमिका निभाई थी | भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में भारतीय जनता को उन्होंने सत्य और अहिंसा के मार्ग को अपनाने का सुझाव दिया था | 


गाँधी जयंती भाषण - Gandhi Jayanti speech

महात्मा गाँधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात में हुआ था | इनके पिता का नाम करमचंद गाँधी और माता का नाम पुतलीबाई था | गांधी जी की पत्नी का नाम कस्तूरबा गाँधी था | गाँधी जी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा गुजरात से की और कानून की पढ़ाई करने के लिए उन्हें लंदन भेज दिया गया | यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन से उन्होंने अपनी कानून की पढ़ाई की और फिर बैरिस्टर बनने हेतु इंग्लैंड चले गए | उनके जन्मदिवस 2 अक्टूबर के दिन ही भारत में गाँधी जयंती मनाई जाती है जबकि सम्पूर्ण विश्व में इस दिन को अंतराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता है | महात्मा गाँधी जी ने अपने पूरे जीवन को सादगीपूर्ण तरीके से जीया | वे गुजरात के साबरमती आश्रम में रहा करते थे और चरखे पर अपने द्वारा ही कातकर बनाये गए सूती वस्त्रों को पहना करते थे | उन्होंने भारत की आज़ादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है | देश को आज़ाद कराने हेतु उन्होंने कई तरह के आंदोलन चलाये जिनमे से प्रमुख आंदोलन निम्न हैं -

  • नमक आंदोलन - डांडी यात्रा 
  • असहयोग आंदोलन 
  • चम्पारण सत्याग्रह 
  • भारत छोड़ो आंदोलन


30 जनवरी 1948 को नाथूराम गोडसे ने महात्मा गाँधी जी की गोली मारकर हत्या कर दी थी |  नाथूराम गोडसे एक हिन्दू राष्ट्रवादी थे | गाँधी जी की हत्या के दोनों षड्यंत्रकारियों नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे को 15 नवंबर 1949 को फांसी दे दी गयी थी | गाँधी जी का समाधि-स्थल राजघाट दिल्ली में स्थित है जिसमे देवनागरी लिपि में 'हे राम' लिखा गया है | 


Gandhi Jayanti information

गाँधी जयंती भारत के तीन राष्ट्रीय अवकाशों में से एक है | अन्य दो राष्ट्रीय अवकाश स्वतंत्रता दिवस - 15 अगस्त (Independence Day - 15 August) और गणतंत्र दिवस - 26 जनवरी (Republic Day - 26 January) को मनाये जाते हैं |


Gandhi Jayanti special

संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations General Assembly) ने 15 जून 2007 को एक प्रस्ताव पारित किया जिसके बाद से 2 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस (International Day of Non-Violence) के रूप में मनाया जाने लगा|


Gandhi Jayanti Whatsapp status 2018


Gandhi Jayanti (holiday)

गाँधी जयंती 2 अक्टूबर, देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में घोषित राष्ट्रीय अवकाशों में से एक है | राष्ट्रीय अवकाश होने के कारण सभी कारखाने, डाकघर, बैंक आदि बंद रहते हैं | गाँधी जयंती को पूरे देश में हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाता है और गाँधी जी को श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है |


How is Gandhi Jayanti celebrated?

गाँधी जयंती 2 अक्टूबर के दिन देश के प्रतिष्ठित नेताओं द्वारा नयी दिल्ली में स्थित महात्मा गाँधी के समाधि-स्थल 'राजघाट' पर जाकर उन्हें फूल माला अर्पित कर श्रद्धांजलि दी जाती है | भारत के सभी हिस्सों में गाँधी जयंती को मनाया जाता है | गाँधी जी की मूर्तियों पर माल्यार्पण किया जाता है | प्रार्थना सभाओं का आयोजन किया जाता है | सभी लोगों को अहिंसा का मार्ग अपनाने के लिए प्रेरित किया जाता है | सभी स्कूलों, महाविद्यालयों में अलग-अलग तरह की प्रतियोगिताएं का आयोजन किया जाता है | 

गाँधी जयंती निबंध  

Gandhi Jayanti celebration in schools

स्कूलों में विभिन्न तरह की प्रतियोगिताएं का आयोजन किया जाता है | चित्रकला प्रतियोगिता, वाद-विवाद प्रतियोगिता, गाँधी जयंती पर निबंध प्रतियोगिता आदि संपन्न की जाती हैं | साथ ही गाँधी जी की मूर्तियों, चित्रों पर फूल मालाएं अर्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है | प्रार्थना सभा की जाती है | गाँधी जी के पसंदीदा भजन 'रघुपति राघव राजा राम' को भी गाया जाता है | प्रतियोगिताएं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्रों को स्कूल प्रबंधन के द्वारा सम्मानित किया जाता है | छात्र-छात्रों को नेकी और अहिंसा की राह पर चलने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है |


Gandhi Jayanti 2018

प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी 2 अक्टूबर को गाँधी जयंती को पूरे हर्षोल्लास के साथ सम्पूर्ण भारत में मनाया जायेगा | मंगलवार '2 अक्टूबर 2018' को गाँधी जयंती के अवसर पर स्कूलों, कॉलेजों में विभिन्न तरह की प्रतियोगिताएं का आयोजन (Gandhi Jayanti programme) किया जायेगा | महात्मा गाँधी जी के समाधि-स्थल 'राजघाट' पर माल्यार्पण किया जायेगा और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी | सभी लोगों को गाँधी जी द्वारा सुझाये गए सत्य और अहिंसा के मार्ग को अपनाने हेतु प्रोत्साहित किया जायेगा | प्रार्थना सभाओं का आयोजन किया जायेगा | साथ ही गाँधी जी के भजनो को गाकर उनको याद किया जायेगा | भारत की आज़ादी में गाँधी जी के योगदान को याद किया जायेगा | 


new delhi,delhi,rajghat,rajghat delhi,rajghat in delhi,delhi tourism,awesome evening in rajghat | new delhi,mahatma gandhi samadhi rajghat in new delhi,dharna venue new delhi,rajghat video,mahatma gandhi,new delhi (indian city),new delhi tourist places,aajtak delhi,rajghat at delhi india  mahatma gandhi samadhi video,delhi : ramnath kovind visits rajghat,rajghat gandhi,rajghat pul,rajghat history


Gandhi Jayanti song 

गाँधी जयंती पर गाँधी जी के पसंदीदा भजनो में से एक 'रघुपति राघव राजा राम पतीत पावन सीता राम' का गायन जरूर किया जाता है | गाँधी जी ने अपने पूरे जीवन में सत्य और अहिंसा के मार्ग को चुना | उनके मुताबिक ईश्वर सिर्फ एक है | बस अलग-अलग धर्मों ने उनके नाम अलग-अलग रख दिए हैं | उनके पसंदीदा भजन में भी यह बात उजागर होती है 'ईश्वर अल्लाह तेरो नाम, सबको संमति दे भगवान' | गाँधी जी के विचारों में 'अनेकता में एकता' वाली बात झलकती है |


Gandhi Jayanti poster

प्रतिवर्ष 2 अक्टूबर को गाँधी जयंती के शुभ अवसर पर स्कूलों, कॉलेजों में अनेक प्रकार की प्रतियोगिताएं का आयोजन किया जाता है | इन प्रतियोगिताएं में से सबसे ज़्यादा रुझान बच्चों का जिन प्रतियोगिताएं की और होता है वे हैं - निबंध प्रतियोगिता और पोस्टर प्रतियोगिता | पोस्टर प्रतियोगिता में बच्चे अपने-अपने पोस्टर्स को बड़ी मेहनत से बनाते हैं और हर एक पोस्टर कोई न कोई सन्देश ज़रूर दर्शाता है | कोई महात्मा गाँधी के चित्र को बनता है तो कोई अहिंसा और सत्य के ऊपर आधारित कोई पोस्टर बनाता है |


Gandhi Jayanti information in Hindi 

भारत के सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में 2 अक्टूबर को गाँधी जयंती मनाई जाती है | गाँधी जयंती महात्मा गाँधी जी के जन्मदिवस पर मनाया जाने वाला एक राष्ट्रीय त्यौहार है जिसे एक राष्ट्रीय अवकाश भी घोषित किया गया है | 2 अक्टूबर का दिन केवल भारत के लिए ही नहीं अपितु पूरे विश्व के लिए ख़ास दिन है | इस दिन भारत में तो गाँधी जयंती मनाई जाती है और संपूर्ण विश्व में इस दिन को 'अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस' के रूप में मनाया जाता है | स्कूलों में अनेक तरह की प्रतियोगिताएं का आयोजन किया जाता | गाँधी जी एक उच्च विचार और सादा जीवन जीने वाले व्यक्ति थे | वे एक शाकाहारी थे और उन्होंने पूरी दुनिया को केवल सत्य और अहिंसा का पाठ पढ़ाया | अपना पूरा जीवन उन्होंने सादगी से जीया | गाँधी जी एक ऐसे महापुरुष थे जिन्होंने देश के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया|

Gandhi Jayanti quotes


सत्य और अहिंसा का पाठ जिसने सबको पढ़ाया 
पूरी दुनिया को सत्य-अहिंसा का मार्ग सुझाया
ऐसे महापुरुष को करो शत शत नमन  
जिसने देश के लिए समर्पित किया पूरा जीवन 

No comments