Breaking News

Love poem for wife


Love poem for wife 


जब भी देखता हूँ आपका ये चेहरा
लगता है जैसे हो गया है सवेरा
देखकर इस चेहरे की चमक
मेरा चेहरा भी जाता है दमक


रिश्ता है हमारा प्यार भरा
तुम में बसा है संसार मेरा
तुम हो जैसे सूरज की किरण
रोशन कर रही हो मेरा जीवन


देखकर तुम्हारी ये मुस्कान
बन जाता है मेरा दिन भी ऊर्जावान
तुम हो मेरी पहचान 
तुमसे दूर नहीं रहा जाता मेरी जान 





वो तुम्हारा मुझसे बातें करना हज़ार
तुम्हारा मुस्कुराता हुआ चेहरा ही 
नज़र आता है बार-बार
प्यार जो है तुमसे बेशुमार

एक पल की भी दूरी  नहीं 
सही जाती तुमसे यार
बातें तुम्हारी लगती है प्यारी
दिल कहता है सुनता रहूं सारी

तुम्हारा वो पलकों को झुकाना
फिर धीरे से मेरे करीब आ जाना
रिश्ता है हमारा बड़ा सुहाना
मैं तो हूँ बस तुम्हारा दीवाना


love poem for wife,love poem for husband , best poem to dedicate to your partner,partner in crime, partner for life,love ever and forever,love never end poem,sad poem for heartbreak,breakup poem,poem to impress wife,lovable poem for lovely wife, best poem ever for life partner,humsafar poem for wife,friends by heart,poem to dedicate for important person of life, husband wife love ,love that never fails , love forever,love on the moon

No comments